पितृदोष से मुक्ति के उपाय

ज्योतिष शास्त्र में पितृदोष सबसे बड़ा दोष माना गया है। पितृदोष से पीड़ित व्यक्ति का जीवन बहुत ज्यादा कष्टों से भरा होता हैं । जिसकी कुंडली में पितृदोष होता है उसे हमेशा धन की कमी बनीं रहती हैं , सवस्थ नहीं रह पाता, मानसिक अस्थिरता बनीं रहती है और उन्नति मैं हमेशा बाधाएं आती रहती हैं।

पितृ हमारे पूर्वज होते हैं जिनकी मृत्यु हो चुकी हैं परन्तु जिन्हे मुक्ति नहीं मिली हैं और उनकी आत्मा भटकती रहती हैं और कष्ट पा रही हैं। जो लोग पितृ पक्ष में पितरों का श्राद्घ नहीं करते हैं उनकी संतान की कुण्डली में पितृदोष लगता है तथा अगले जन्म में वह भी पितृ दोष से पीड़ित होकर कष्ट प्राप्त करते हैं।

ज्योतिष शास्त्र में पितृदोष से मुक्ति के उपाय  बताये गए हैं जिनको करने से पितरो को मुक्ति मिलती हैं और आपके कष्ट भी समाप्त होते हैं।

पितृ दोष से मुक्ति के उपाय

  • घर की दक्षिण दीवार पर अपने पितरो का फोटो लगाकर उसके सामने पुष्प/माला चढ़ाये, एवं अगरबत्ती लगाए और उनका आशीर्वाद ले।
  • अपने पूर्वजो की मृत्यु तिथि पर किसी ब्राह्मण या जरूरतमंद को अपने पूर्वजो की पसंद का भोजन जरूर कराये।
  • शनिवार के दिन सुबह जल्दी कच्चे दूध मैं जौ तथा काले तिल मिलाकर पीतल के वृक्ष की जड़ पर चढ़ाएं। पितृ दोष दूर हो जाएगा।
  • ७ मंगलवार तथा शनिवार को लगातार जावित्री और केसर की धूप पुरे घर में देना भी पितृदोष से मुक्ति के उपाय हैं

श्राद्ध पक्ष में पितर दोष से मुक्ति के उपाय

  • श्राद्ध पक्ष में रोज पितरों के निमित जल, जौ और काले तिल पुष्प के साथ तर्पण करने से पितृ प्रसन्न होते हैं तथा पितृ दोष दूर होता है।
  • श्राद्ध पक्ष में अपने पूर्वजो की मृत्यु तिथि पर किसी ब्राह्मण को अपने पूर्वजो की पसंद का भोजन जरूर कराये।
  • श्राद्ध पक्ष में पितरो के निमित श्रीमद्‍भागवत गीता का पाठ करने से भी पित्तरों को शांति मिलती है और पितृदोष दूर होता हैं
  • श्राद्ध पक्ष में GAYA, Bihar (गयाजी ) जाकर अपने पितरो के निमित श्राद्ध करे तो भी पितृ दोष से मुक्ति मिलती हैं

अमावस्या के दिन पितृदोष से मुक्ति के उपाय

  • अमावस्या के दिन पितरों के नाम से धुप देने और ब्राह्मïण को भोजन कराने से पितृ दोष दूर हो जाता हैं।
  • अमावस्या के दिन गरीबों को वस्त्र और अन्न आदि दान करना भी पितृदोष से मुक्ति के उपाय हैं।
  • अमावस्या के दिन १ नारियल फोड़कर उसका कुछ हिस्सा और कुछ मिठाई गोबर के कंडे पर अग्नि के धुएं पर पितरो के निमित चढ़ाइये।
  • गाय की सेवा करने और नित्य रोटी/चारा खिलाना भी पितृदोष से मुक्ति के उपाय हैं, रोज ना कर सके तो अमावस्या को तो ये उपाय जरूर करना चाहिए।

जब भी पितर दोष से मुक्ति के उपाय  करे तो यह सावधानी जरूर रखे.

पितर दोष से मुक्ति के उपाय  मै सच्चे मन से विश्वास करे तभी वो सफल होगा.

Pitru Paksha 2017 Date

पितृ दोष के लक्षण

पितृ दोष निवारण मंत्र

पितर आरती

पितर चालीसा

Hope you find these Pitradosh se mukti ke upay in Hindi  useful and remove pitradosh from your life.

Translate »