पितृ दोष के लक्षण

ज्योतिष विद्या के अनुसार जब किसी व्यक्ति की कुंडली मैं सूर्य और मंगल ग्रह पाप भाव में होते हैं तो व्यक्ति को पितृदोष  हो जाता है। वैसे तो कोई भी अच्छा ज्योतिष आपकी पत्रिका देखकर बता सकता हैं की आपको पितृदोष हैं  की नहीं. पर अगर किसी कारण पत्रिका नहीं है तो पितृदोष के लक्षण  से पता लग जाता हैं की पितृदोष  हैं की नहीं.

आज हम आपको बता रहे हैं पितृदोष के लक्षण. अगर कोई वयक्ति निचे बताये गए लक्षणों का सामना कर रहा हैं तो यह निश्चित हैं उसकी कुंडली में पितृदोष  हैं.

पितृ दोष के लक्षण | पितर दोष के लक्षण

  • विवाह ना होना या विवाह होने मैं बहुत समस्या होना
  • वैवाहिक जीवन में कलह होना
  • परीक्षा में बार-बार फ़ैल होना
  • नौकरी का ना मिलना या बार २ नौकरी छूटना
  • गर्भपात या गर्भधारण मैं बहुत ज्यादा समस्या
  • बच्चे की अकाल मृत्यु हो जाना
  • मंदबुद्धि बच्चे का जन्म होना
  • अपने आप पर विश्वास ना होना या कोई निर्णय न ले पाना
  • बात बात पर क्रोध आना
  • बहुत मेह्नत के बावजूद व्यापर ना चलना

पितृ दोष  से पीड़ित व्यक्ति को जीवन मैं बहुत से कष्ट उठाने पड़ सकते हैं.

पित्र दोष के लक्षण  पता चलने पर पितृ दोष निवारण करने के लिए प्रयास करना चाइए

Pitru Paksha 2017 Date

पितृदोष से मुक्ति के उपाय

पितृ दोष निवारण मंत्र

पितर आरती

पितर चालीसा

पितृ स्तोत्र

(Visited 1,052 times, 3 visits today)