पूर्णिमा के टोटके

पूर्णिमा

हिन्दू पंचांग के अनुसार मास की 15वीं और शुक्लपक्ष की अंतिम तिथि पूर्णिमा होती है जिस दिन चंद्र आकाश में पूरा होता है।

पूर्णिमा का महत्व

पूर्णिमा का हिन्दू धरम शाश्त्रो में अत्यधिक महत्व हैं।

माना जाता है की माता लष्मी को पूर्णिमा का दिन अत्यधिक प्रिय है और इस दिन उनकी पूजा करने से धन संभंदि सारी मनोकामनएं पूर्ण होती है.

पूर्णिमा के टोटके/उपाय

आज हम आपको बता रहे है पूर्णिमा के टोटके/उपाय जिन्हे करने से आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो सकती है.

  • पूर्णिमा के दिन सुबह उठकर नित्य कर्मों से निवृत्त होकर पीपल के पेड़ के नीचे मां लक्ष्मी का पूजन करें और लक्ष्मी को घर पर निवास करने के लिए आमंत्रित करें। इससे लक्ष्मी की कृपा आप पर सदा बनी रहेगी।
  • पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए किसी निर्धन विवाहित स्त्री को सुहाग का सामान दान करें.
  • पूर्णिमा के दिन लक्ष्मी मंदिर में जाकर झाड़ू दान करें।
  • पूर्णिमा के दिन किसी भी लक्ष्मी मंत्र का एक माला जाप करे.
  • पूर्णिमा के दिन लक्ष्मी मंदिर मै इत्र और खुशबु वाली अगरबत्ती अर्पित करे
  • पूर्णिमा के दिन चंद्रोदय के समय चन्द्रमा को कच्चे दूध में चीनी और चावल मिलाकर ”ॐ ऎ क्लीं सोमाय नमः” मन्त्र का जाप करते हुए अर्घ्य देना चाहिए।
  • पूर्णिमा के दिन शिवजी का कच्चे दूध और शहद से अभिषेक करने से शिवजी प्रसन्न होते है

पूर्णिमा कब है 2017
पूर्णिमा के दिन 2017

09  जुलाई (रविवार) आषाढ़ पूर्णिमा
07 अगस्त (सोमवार) श्रावण पूर्णिमा
06  सितम्बर (बुधवार) भाद्रपद पूर्णिमा
05 अक्टूबर (बृहस्पतिवार) अश्विन पूर्णिमा
04 नवम्बर (शनिवार) कार्तिक पूर्णिमा
03 दिसम्बर (रविवार) मार्गशीर्ष पूर्णिमा

पूर्णिमा के टोटके/उपाय निश्चित रूप से कारगर हैं बस आप इन्हे श्रद्धा और आस्था के साथ करे।