बृहस्पति ग्रह की शान्ति के उपाय

ज्योतिष शास्त्र मै ऐसे उपाय बताये गए है जो ग्रहो के अशुभ फलो को शुभ फल मै बदल देते है. आज हम आपको बृहस्पति/गुरु ग्रह (Brihaspati/Guru Grah)की शान्ति के उपाय बता रहे है

बृहस्पति /गुरुग्रह (Brihaspati/Guru Grah)

गुरु/बृहस्पति (Brihaspati Grah) सभी ग्रहों में सबसे शुभ ग्रह है। गुरु/बृहस्पति ग्रह को संतान, धन, ज्ञान  तथा न्याय का का प्रतीक माना गया है। शुभ गुरु/बृहस्पति ग्रह वाले व्यक्ति बहुत ज्ञानी होते है।

अगर बृहस्पति ग्रह अनुकूल नहीं है तो धन की कमी, आर्थिक नुकसान , संतान सुख में देर  या लड़की की शादी नहीं होती है

बृहस्पति /गुरु ग्रह की शान्ति के उपाय | Brihaspati Grah KI Shanti Ke Upay

  • प्रतिदिन एक माला गुरु/बृहस्पति मंत्र का जाप करना चाहिए।गुरु का तंत्रोक्त मन्त्र — ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नमः। 19000 बार

    ॐ बृं बृहस्पतयै नमः  —  16000 बार

  •  

    गुरुवार के दिन पीली वस्तुओ का दान करे जैसे पीला अन्न, सोना, हल्दी की गांठें, नींबू , शहद, पीला फूल तथा पीला फल आदि

  • वृहस्पतिवार व्रत करना चाहिए.
  • गुढ़हल के फूल भगवान् को अर्पित करें
  • माता-पिता, बुजुर्गो और पितरों का सम्मान करने वाले लोगों का बृहस्पति हमेशा बेहतर फल देता है.
  • गुरुवार के दिन  केले के पेड़ के सम्मुख गौघृत का दीपक जलाना चाहिए
  • गुरुवार के दिन  केले के पेड़ मैं जल चढ़ाये
  • गुरुवार के दिन रोटी मैं चने की दाल, गुड़ एवं हल्दी डालकर गाय को खिलानी चाहिए।
  • गुरुवार के दिन आलू पीसी हल्दी डालकर गाय को खिलानी चाहिए।
  • केसर का टीका लगाना चाहिए
  • ब्राह्मणों एवं गरीबों को दही चावल खिलाना चाहिए।

बृहस्पति/गुरु ग्रह की शान्ति के ये उपाय (Brihaspati Graha KI Shanti Ke Upay) निश्चित रूप से कारगर हैं बस आप इन्हे श्रद्धा और आस्था के साथ करे।

Brihaspati Mantra | बृहस्पति मंत्र

Brihaspati Kavacham | बृहस्पति कवच

Brihaspati Gayatri Mantra | बृहस्पति गायत्री मंत्र

Brihaspati Aarti | वृहस्पति आरती

Thursday Totke | गुरुवार के टोटके